• अनाथ बच्चों को मुफ्त में पढ़ाएगा वीएमओयू

    विनीत सिंह 
    अनाथ बच्चों के लिए अच्छी खबर। अब उन्हें पढ़ाई के लिए पैसा जुटाने की चिंता नहीं करनी पड़ेगी। वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय (वीएमओयू) की विद्या परिषद ने अनाथ बच्चों को मुफ्त में पढ़ाने का फैसला लिया है। जिसके बाद विवि में संचालित किसी भी पाठ्यक्रम में उन्हें निशुल्क प्रवेश मिलने का रास्ता खुल गया है। विद्या परिषद ने शोध पीठ स्थापित करने और स्थगित चल रहे दर्जन भर पाठ्यक्रमों को फिर से शुरू करने को भी हरी झंडी दे दी है। 

    वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय की विद्या परिषद की बैठक शुक्रवार को विवि परिसर में आयोजित की गई। कुलपति प्रो. अशोक शर्मा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। जिसमें उनके महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट अनाथ बच्चों को मुफ्त में पढ़ाए जाने को सर्व सम्मति से मंजूरी दे दी गई। इस फैसले के बाद अब पूरे देश में कहीं भी निवास करने वाले अनाथ बच्चे वीएमओयू के पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेकर मुफ्त में पढ़ाई पूरी कर सकेंगे।
    इसके साथ ही बैठक में तय हुआ कि कृष्ण भक्त मीराबाई के जीवन और रचनाओं पर शोध कार्य करने के लिए विश्वविद्यालय परिसर में शोध पीठ स्थापित की जाएगी। विद्या परिषद से प्रस्ताव पारित होने के बाद अब राजभवन भेजा जाएगा। जहां से इसे अंतिम मंजूरी मिलेगी। राजस्थान की मरुभूमि पर जन्मी भक्ति रस की महान रचनाकार और कृष्ण भक्ति का बीज आम जन के मन में बोने वाली मीरा की रचनाओं और उनके जीवन पर व्यापक शोध के लिए यह राजस्थान के  किसी  विश्वविद्यालय का पहला प्रयास है। जहां बकायदा शोध पीठ स्थापित करने के साथ ही उसके संचालन के लिए एक करोड़ रुपए की एफडी पहले से ही कराई जाएगी।


    यूजीसी को करारा जवाब 

    यूजीसी ने हाल ही में वर्ष 2013 से शुरू किए गए वीएमओयू के नौ पाठ्यक्रमों की पढ़ाई इस  शैक्षणिक सत्र में कराने की अनुमति जारी नहीं की थी। जिससे विश्वविद्यालय को छात्र संख्या के साथ-साथ आर्थिक नुकसान भी उठाना पड़ता। इसके जवाब में विश्वविद्यालय की विद्या परिषद ने वर्ष 2013 से पहले शुरू किए गए 12 पाठ्यक्रमों में फिर से पढ़ाई शुरू कराने का फैसला लिया है। इन पाठ्यक्रमों को व्यवहारिक कारणों के चलते पिछले सालों में स्थगित कर दिया गया था। विद्या परिषद ने डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, योग में प्रमाण पत्र, नेचुरोपेथी में प्रमाण पत्र, आयुर्वेद में प्रमाण पत्र, सार्टिफिकेट इन फंक्शनल इंग्लिश, सार्टिफिकेट इन टीचिंग ऑफ इंग्लिश, सार्टिफिकेट इन क्रिएटिव राइटिंग इन इंग्लिश, सार्टिफिकेट इन फलित ज्योतिष, डिप्लोमा इन जनरल एग्रीकल्चर, फसल संरक्षण में प्रमाण पत्र,   सार्टिफिकेट और डिप्लोमा कोर्स इन हैल्थ एंड न्यूट्रिशन पाठ्यक्रमों को जुलाई सत्र से दोबारा शुरू करने की मंजूरी दे दी है।


  • Freedom Voice

    ADDRESS

    Kota, Rajashtan

    EMAIL

    vineet.ani@gmail.com

    TELEPHONE

    +91 75990 31853

    Direct Contact

    Www.Facebook.Com/Dr.Vineetsingh